,

यह चार रहस्य जुड़े है हिन्दू धर्म से जो विज्ञान को कभी समझ में नहीं आएँगे!  

जानिए हिन्दू धर्म से जुड़े इन 4 रहस्यों के बारे में!

हिन्दू धर्म एकमात्र ऐसा धर्म है जिसने सत्य तक, ईश्वर तक पहुँचने के लिए अनेक तरह के मार्गों की निर्माण किया। हमारा महान देश भारत जिसमें अनेक सभ्यताएं, संस्कृति को अपने में समेटा हुआ है। हमारे प्राचीन देश भारत में हिन्दू धर्म से जुड़े कुछ ऐसे रहस्य है, जिसे विज्ञान या तो मानता नहीं या फिर इसके बारे में विज्ञान को जानकारी ही नहीं है।

हिन्दू धर्म में ऐसे बहुत से रहस्य है जिसके बारे में आप जानते होंगे। और विज्ञान ने भी इन रहस्यों को समझा होगा। लेकिन हिन्दू धर्म में चार ऐसे रहस्य भी है जिसे विज्ञान कभी समझ ही नहीं सकता। आज हम आपको इन्हीं चार रहस्यों के बारे में बताने जा रहे है। जिसे आज तक कोई सुलझा नहीं सका है तो चलिए शुरू करते है।

#1. इच्छाधारी नाग

हिन्दू धर्म में गाय के बाद सांप को ऊँचा दर्जा मिला है। आज भी देश में नागों की पूजा होती है। शेशनाग जिसे 10 फन वाला सांप माना जाता है। जिस पर भगवान विष्णु बैठे होते है। भगवान शिव के गले में भी नाग देवता लिपटे रहते है। माना जाता है की कुछ सांपो के पास एक विशेष प्रकार की मणि होती है।

अगर वह मणि किसी इंसान को मिल जाये तो वह अमर हो जाता है। लेकिन आज तक कोई भी उस मणि को हासिल नहीं कर पाया है। हालाँकि इन सभी बातों का कोई सबूत नहीं है। लेकिन यह भी सत्य है की सांप धरती का सबसे रहस्यमयी जीव है।

#2. संजीवनी बूटी

रामायण में यह उल्लेख है की जब लक्ष्मण, मेघनाद युद्ध में मेघनाद के अस्त्र प्रयोग से मरने की स्थिति में आ गए थे, तब हनुमान जी उनके लिए संजीवनी बूटी लेने गए थे। और लक्ष्मण जी को जीवन दान दिया गया था। इस बूटी के बारे में यह माना जाता है की यह मृत्यु की स्थिति में होने पर व्यक्ति को फिर से स्वस्थ कर देती है।

शोधकर्ताओं का कहना है की यह पौधा एक ऐसे औषधि के रूप में काम करता है जो हमारे इम्यून सिस्टम को रेगुलेट करता है। और रेडियोएक्टिविटी से भी बचाता है।

#3. सोमरस

कहा जाता है की स्वर्ग में अप्सराएं देवताओं को एक ख़ास तरह का पेय पदार्थ पिलाती थी। जिसे सोमरस कहा जाता था। कुछ विद्वान कहते है की सोमरस शराब का ही एक रूप है जिसे देवता आनंद के लिए पीते थे। लेकिन वेदों में शराब को सोमरस नहीं बल्कि सूरा कहा गया है। कहीं पर यह तर्क भी मिलते है की सोमरस भांग का एक रूप था। उसे भगवान शिव के साथ अन्य देवता भी पिया करते थे।

ऋग्वेद में सोमरस में दही और दूध होने की बात कहीं गई है। लेकिन सभी जानते है की शराब में दूध-दही नहीं होता। भांग में दूध तो मिलाया जा सकता है लेकिन दही नहीं तो स्पष्ट है की सोमरस शराब या भांग तो नहीं है। तो आखिर सोमरस क्या था…. यह अभी तक रहस्य है।  

#4. पुनर्जन्म की धारणा

यह धारणा है की व्यक्ति मृत्यु के बाद पुनः जन्म लेता है। हिन्दू धर्म के अनुसार मनुष्य का केवल शरीर मरता है, उसकी आत्मा नहीं। आत्मा एक शरीर को त्याग कर दूसरे में प्रवेश करती है। इसे ही पुनर्जन्म कहा जाता है। बहुत से लोग कहते है की उन्हें पुनर्जन्म की घटनाएँ याद है।

लेकिन विज्ञान को पुनर्जन्म पर भ्रम है। ऐसा कोई सबूत नहीं मिलता जिससे आत्मा का एक शरीर से दूसरे शरीर में जाना साबित किया जा सके। कुछ मनोवैज्ञानिक इसे मानते है और उससे जुड़ी सम्बन्धित शारीरिक बिमारियों का इलाज करते है।

तो दोस्तों यह थे कुछ रहस्य जो हिन्दू धर्म से जुड़े है। इस पर आपकी क्या राय है हमें कमेंट करके बताये। और अगर आपको यह पोस्ट पसंद आयी हो तो इसे लाइक ज़रुर करे। और अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करे। हम आगे भी आपके लिए कुछ ऐसी ही रोचक जानकारी लेकर हाज़िर होंगे धन्यवाद।

जरूर पढ़े:  यहाँ घर केवल 72 रुपए में मिल रहे - हाथ से ना जाने दे ऐसा मौका!

पवित्र तीर्थ हज की यात्रा की है इन मशहूर हस्तियों ने – नंबर 3 ने तो शादी भी वहीं की थी!

बॉलीवुड की इन 5 अभिनेत्रियों की असली उम्र जान हो जायेंगे आप हैरान – नंबर 4 तो बन चुकी है मिस वर्ल्ड!