,

ऐसी 5 सच्ची घटनाएँ जिन्हें आप जीवन में मरते दम तक नहीं भूल सकते – 1 नंबर की घटना पर तो सब करते है बहुत यकीन!

जाने इन 5 सच्ची घटनाओं को, जिन्हें मरते दम तक नहीं भुला पाएँगे!

आज हम आपको ऐसी घटनाओं के बारे में बताने वाले है जिन्हें आप अपने जीवन के आख़िरी के पलों में भी नहीं भूल सकते है और उन्हें आप जीवन के आख़िरी पलों में भी याद करेंगे यह 5 घटनाएँ ऐसी है जिन्हें इन्सान मरते दम तक नहीं भूल सकता कहा जाता है की जब व्यक्ति के जीवन का आख़िरी समय आता है तो वह इन 5 चीजों के बारे में अवश्य सोचता है

सभी व्यक्ति अपने जीवन की बहुत सारी बातों को जीवन भर याद रखते है और बहुत सी बातें ऐसी होती है जिन्हें हम भूलना ही नहीं चाहते है लेकिन जब हमारे जीवन का आख़िरी समय आता है तब हम सारी बातों के बारे में नहीं सोच पाते है पर यह 5 बातें हमें ज़रुर याद रहती है तो चलिए जानते है इनके बारे में

#1. रामलीला

यह एक ऐसी घटना है जिसे आज कोई भी इन्सान जो इस घटना के बारे में जानता है वह मरने के पहले भी इस घटना को नहीं भूल सकता यह एक सच्ची घटना है जो घटित हो चुकी है यह हम सभी जानते है की भगवान राम ने किस प्रकार रावण का वध किया था

और किन परिस्थितियों में उन्होंने अपना जीवन यापन किया था हम यह गाथा कितनी बार ही क्यों ना सुने या भूलने की कोशिश क्यों ना करे पर यह हम कभी भी नहीं भूल सकते है हम मरने के अंतिम पलों में भी भगवान राम को याद करते है

#2. महाभारत युद्ध

यह घटना आपको एक बात याद दिलाती होगी की क्यों युधिष्ठिर ने जुआ खेला और क्यों अपनी सारी चीजों को दाव पर लगा दिया जिसके कारण ही महाभारत के युद्ध की शुरुआत हुई थी

और ना जाने कितने लोगों की मौत का जिम्मेदार सिर्फ एक लकड़ी का पासा था जिस पासे ने कुरुक्षेत्र की भूमि को लाल रंग से नहलवा दिया था और अपने भाइयों के हाथों ही भाइयों का वध करवा दिया था

#3. भगवान श्रीकृष्ण की मृत्यु

कोई भी भगवान अपने अवतार में मृत्यु को प्राप्त नहीं हुआ है लेकिन भगवान विष्णु के अवतार श्रीकृष्ण जी को मृत्यु की प्राप्ति हुई और इसके पीछे किसी शिकारी के तीर का लगना बताया जाता है कहा जाता है की यह एक बहुत ही विचित्र घटना है

#2. दानवीर कर्ण का कवच-कुण्डल देना

दानवीर कर्ण ने अपने जीवन में कभी भी छल नहीं किया वह जब भी सुबह स्न्नान करने जाते और कोई भी उनसे कुछ मांगता तो वह उसको तुरंत वो चीज दान कर देते एक बार भगवान इंद्र साधु का वेश बनाकर सुबह दान मांगने गए और इंद्र ने कर्ण से अपना कवच-कुण्डल दान में देने के लिए कहा

तो कर्ण ने उसी समय उसे अपने शरीर से अलग कर दान में दे दिया और सबसे विचित्र बात यह की कर्ण जानते थे की वह साधु भगवान इंद्र है और वह अपने पुत्र अर्जुन को बचाने के लिए यह मांग रहे है

#5. आत्माएं होना

यह घटना सब विचित्र घटनाओं में से एक है जब हम कभी यह बात अपने दिमाग में लाते है तो हम यहीं सोचते है की अगर आत्माएं होती है तो हमें दिखती क्यों नहीं है बहुत से लोग इसे अपने कैमरा में रिकॉर्ड करने की कोशिश भी करते है कुछ लोग इसमें सफल होते हैऔर कुछ नहीं होते है

तो दोस्तों यह 5 बातें हम कभी भी नहीं भूल सकते हैऔर यह हमें हमेशा याद रहती है दोस्तों आपकी इस पर क्या राय है हमें कमेंट करके ज़रुर बताये यदि आपको यह पोस्ट पसंद आयी हो तो इसे लाइक करना ना भूले और अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करे आगे भी हम आपके लिए कुछ ऐसी ही विचित्र और रोचक जानकारी लेकर आएँगे तब तक के लिए अलविदा दोस्तों

जरूर पढ़े:  ये है वो चार चीजें जिसे राह में दिखने पर भूलकर भी ना लांघे नही तो आ सकती है परेशानी!

पूरी दुनिया में रातों-रात फेमस होने वाले ये है वो 5 लोग – 3 नंबर के तो सब दीवाने है!

जानिए देश के पिछले 5 झंडे – 6 बार बदलने के बाद राष्ट्रीय ध्वज बना तिरंगा!